Header Ads

मिज़ोरम की सीमा पर हलचल, म्यांमार से हज़ारों लोग भारत में क्यों घुसे?

पिछले कुछ दिनों में भारत-म्यांमार सीमा के क़रीब म्यांमार सेना और सैन्य शासन का विरोध कर रहे बलों के बीच तेज़ हुई झड़पों के बीच क़रीब पाँच हज़ार विस्थापित लोग म्यांमार से मिज़ोरम पहुँचे हैं.
म्यांमार सेना के 45 जवानों ने भी बुधवार तक मिज़ोरम पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है.
इन्हें भारतीय सेना को सौंप दिया गया और बाद में म्यांमार वापस भेज दिया गया.
मिज़ोरम पुलिस के आईजीपी (क़ानून व्यवस्था) लालबियाक्तगंगा खिआंगते ने बीबीसी से बातचीत में इसकी पुष्टि की है. बीबीसी से बात करते हुए आईजीपी खिआंगते ने कहा, “बॉर्डर के क़रीब दूसरी तरफ़ स्थिति अभी भी तनावपूर्ण है, लेकिन अभी तक भारत की तरफ़ कोई हिंसक गतिविधि नहीं हुई है. म्यांमार-भारत सीमा के बेहद क़रीब जो झड़पें हो रही हैं, उसका असर बॉर्डर की स्थिति पर हुआ है. विद्रोहियों ने कई जगह हमले किए हैं और सेना की चौकियों पर क़ब्ज़ा किया है जिसके बाद म्यांमार के सैनिकों को जंगल में छिपना पड़ा है.” म्यांमार में सेना ने फ़रवरी 2021 में लोकतांत्रिक सरकार को हटाकर सत्ता पर क़ब्ज़ा कर लिया था. तब से ही म्यांमार में गृह युद्ध चल रहा है जिसकी वजह से लाखों लोग विस्थापित हुए हैं.

No comments

Powered by Blogger.