Header Ads

मोरारी बापू ने महाकाल में सिर पर कफनी बांधकर पूजा की, अखिल भारतीय पुजारी महासंघ ने जताई आपत्ति

कथावाचक मोरारी बापू के महाकाल के गर्भगृह में पूजन करने पर अब आपत्ति आई है। दरअसल उन्होंने महाकाल मंदिर के गर्भगृह में सिर पर कफनी बांधकर और लुंगी पहनकर पूजा की थी। अखिल भारतीय पुजारी महासंघ का कहना है कि यह गर्भगृह के नियम, परंपरा और मर्यादा के विपरीत है।


अखिल भारतीय पुजारी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेश पुजारी ने इस पर आपत्ति जताई। उनका कहना है कि नियम अनुसार गर्भगृह में संत या भक्त सिर पर टोपी, कपड़ा, पगड़ी आदि नहीं पहनते हैं और प्रवेश बंद होने पर लांग वाली धोती पहनकर जाते हैं। मोरारी बापू ने मंदिर की परंपरा और मर्यादा के विपरीत सिर पर कफन नुमा कपड़ा बांधकर और लुंगी पहनकर दर्शन और पूजन की। जिसका मंदिर समिति व पूजा कराने वाले पुजारी-पुरोहितों ने भी ध्यान नहीं रखा।

No comments

Powered by Blogger.