Header Ads

तेेज बारिश में बाइक संग बहा युवक, सड़कें नदियों की तरह बहने लगीं, वाहनों को बहा ले गया बरसात का पानी

सूखे रेगिस्तान के लिए मशहूर राजस्थान में इस बार बारिश ने सारे रिकॉर्ड तोड़ रखे हैं. देर रात हुई मूसलाधार बारिश से सड़कों पर गाड़ियां बह गईं. भीतरी शहर में गलियां नदियां बन गईं. एक बाइक के साथ आदमी भी बह गया. इधर जीरा मंडी में पानी भरने से लाखों रुपए का जीरा भी बह गया।


जीरा मंडी में कुल 50 लाख का नुकसान बताया जा रहा है. लगातार 2 घंटे चली तेज बारिश से शहर पानी-पानी हो गया. इस दौरान 66.8 एमएम बारिश हुई।

दरअसल, शुक्रवार दिनभर तेज गर्मी और उमस के बाद रात साढे आठ बजे तेज बारिश का दौर शुरू हुआ. बरसात रात साढे दस बजे तक चली. तेज बारिश के चलते भीतरी शहर की गलियों में पानी भर गया. गलियों में तेज बहाव के साथ वाहन तैरते नजर आए. चांदपोल में फुलेराव की घाटी में बाइक के साथ बाइक सवार भी बह गया. गनीमत रही कि उसे कॉलोनी के लोगों ने बचा लिया, लेकिन वह जगह-जगह चोटिल हो गया।

चांदपोल से व्यास पार्क होते हुए नायों के बड़ क्षेत्र में पानी के तेज बहाव से गलियां भर गईं. इधर, पदमसर से जालोरी गेट तक की सड़कों पर पानी का तेज बहाव से वाहन तैरते नजर आए. बाल किशन लाल मंदिर क्षेत्र में स्कूटी व मोटर साइकिल पानी के साथ बहती नजर आई. मानसून की पहली तेज बरसात में दो घंटे में शहर में हर कहीं पानी भरा नजर आया।


लोगों की गाड़ियों में भर गया पानी

जालोरी गेट से भीतरी शहर का पानी सरदारपुरा की ओर सड़कों पर भर गया. मेडिकल चौराहे पर घुटनों तक पानी भरने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा. सड़क पर पानी भरने से वाहनों में पानी चला गया। रास्तों-सड़कों पर फंसे लोग बड़ी मुश्किल से अपने घर पहुंच पाए।


राजस्थान के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र, जमकर होगी बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक, राजस्थान के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है. साथ ही पश्चिमी विक्षोभ भी इस इलाके में एक्टिव है. इसके चलते राज्य में अभी बारिश थमने के आसार नहीं हैं. राज्य में अगले 5 दिन तक लगभग सभी हिस्सों में भारी से भारी बारिश होने की संभावना है.

No comments

Powered by Blogger.