Header Ads

पैनकार्ड लिंक करना हैं जरूरी ?

पैन कार्ड-आधार को लिंक (PAN-Aadhaar Linking) करने के लिए आयकर विभाग ने 30 जून, 2023 तक की समय सीमा दी है. यदि कोई व्यक्ति 30 जून 2023 की समय सीमा तक आधार और पैन कार्ड को लिंक नहीं करते हैं तो उनका पैन इनऑपरेटिव हो जाएगा. इसके अलावा जो लोग कल पैन को आधार से लिंक करेंगे उन्हें पेनाल्टी भी देनी पड़ेगी. कई सारे सरकारी और गैर सरकारी कार्य के लिए पैन कार्ड एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है. अगर पैन को आधार से लिंक नहीं करते तो इन काम को करने के लिए समस्या का सामना करना पड़ेगा.

हालांकि पैन-आधार लिंकिंग की अनिवार्यता के बावजूद देश में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिनको इस अनिवार्यता से छूट मिली हुई है. इन लोगों का आधार पैन से लिंक न होने के बावजूद इनऑपरेटिव नहीं होगा, अगर ये लोग पैन को आधार से लिंक भी करना चाहे तो इन्हें पेनाल्टी भी नहीं देगी होगी. आइए जानते हैं कि आधार-पैन लिंक करने की जरूरत किन लोगों को नहीं है.


30 जून के बाद कितना लगेगा चार्ज

अगर आप 30 जून तक लिंक नहीं करते तो 1 जुलाई से आपको पैसे भी देने पड़ेंगे. इसका मतलब हुआ कि अगर इनऑपरेटिव हो चुके पैन को दोबारा एक्टिव कराते हैं तो 10000 रुपये की फीस भरनी होगी. यही वजह है कि विभाग लगातार चेतावनी दे रहा है कि पैन और आधार को जोड़ लिया जाए.

जानें किन्हें मिली है छूट 


1. असम, जम्मू और कश्मीर और मेघालय राज्यों के निवासियों को.

2. आयकर अधिनियम, 1961 के अनुसार अनिवासी भारतीय (NRI).

3. कोई भी व्यक्ति जो पिछले वर्ष के दौरान किसी भी समय 80 वर्ष या उससे अधिक आयु का था.

4. ऐसे व्यक्ति जो भारत के नागरिक नहीं हैं.

नोट : पेन कार्ड लिंक करने में कोई समस्या हो तो comment box अपनी समस्या साझा करें ।

No comments

Powered by Blogger.