Header Ads

50 लाख रूपये लोगों के खाते में आएंगे

 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 3 जुलाई को प्रदेशभर के लाखों पेंशनधारियों को पेंशन की सौगात देंगे.अब राज्य में न्यूनतम 1 हजार रूपए पेंशन की राशि पेंशनधारियों के खातों में ट्रांसर्फर होंगे.बताया जा रहा है कि 3 जुलाई को सीएम गहलोत बटन दबाकर खातों में राशि ट्रांसर्फर करेंगे.इसके लिए जयपुर में एक बडा कार्यक्रम हो सकता है.
सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के लिए महंगाई राहत कैंप में अब तक 50,61,600 पेंशनधारियों ने रजिस्ट्रेशन करवा लिया है.अब इन पेंशनधारियों को न्यूनतम 1 हजार रूपए की पेंशन मिलेगी.इससे पहले 500 और 750 रूपए न्यूनतम पेंशन मिलती थी.अब कार्यक्रम के लिए सामाजिक न्याय विभाग की तैयारियां तेज होने लगी है.जल्द ही राहत की राशि पेंशनधारियों के खातो में ट्रांसर्फर की जाएगी.

राजस्थान में सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के जरिए वृद्धावस्था,विधवा,तलाकशुदा,परित्यक्ता पेंशन योजना,विशेषयोग्यज पेंशन योजना,वृद्धजन पेंशन योजना और किसानों के लिए पेंशन योजना के जरिए पेंशन मिलती है.सभी श्रेणियों ने सरकार ने न्यूनतम 1 हजार रूपए की राशि मिल पाएगी.सीएम गहलोत ने बजट में न्यूनतम पेंशन योजना की घोषणा की थी. राजस्थान वृद्धावस्था पेंशन योजना का किसे मिलेगा लाभ

पात्र लाभार्थियों को 750 रूपये और 1000 रूपये लाभार्थी की आयु के हिसाब से पेंशन दी जाती है.

इस पेंशन योजना के लिए आवेदक की वार्षिक आय 48000 रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए,

तभी वह इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है.

महिला की आयु 55 वर्ष या उससे अधिक और पुरुष की उम्र 58 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए.राजस्थान मुख्यमंत्री एकल नारी सम्मान पेंशन योजना 2023

न्यूनतम 18 वर्ष आयु की विधवा /तलाकशुदा /परित्यक्ता महिलाएं ही इसके लिए आवेदक कर सकती है.

इस योजना का लाभ राजस्थान राज्य की निराश्रित विधवा ,तलाकशुदा ,परित्यक्ता महिलाओं को दिया जाएगा. मुख्यमंत्री एकल नारी सम्मान पेंशन योजना के लिए आवेदन हेतु महिला की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष और अधिकतम 55 वर्ष तय की गयी है. इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार 500 रूपये से 1500 रूपये हर माह पेंशन के तोर पर प्रदान करेगी.


No comments

Powered by Blogger.